High Speed Train In India भारत की सबसे तेज गति से चलने वाली ट्रेन

High Speed Train In India High Speed Train In India High Speed Train In India High Speed Train In India
भारत की सबसे तेज गति से चलने वाली ट्रेन

आप सभी का Shital RCS GYAN में स्वागत करता हूँl आज में आप लोगो के लिए रेलवे से जूरी बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी लेकर आया हूँl आप लोगो को आज के इस आर्टिकल को जरूर पढना चाहिएl आज के इस आर्टिकल में बताबे वाका हूँ भारत की 5 ऐसी ट्रेन जो बहुत ही तेज गति से चलनी वाली हैl और ट्रेन से जुरी महत्वपूर्ण तथ्य बताऊंगाl




दोस्तों ये आर्टिकल कम्पटीशन एग्जाम की तैयारी कर रहे स्टूडेंट्स के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण हैl साथ में आप सभी को इस के बारे में जानना चाहिए क्योकि हमारे भारत में रेल एक ऐसा जरिया है जो राजस्व में काफी हद तक मदद करता हैl

भारत में रेल की सुरवात अंग्रेजों द्वारा 1853ई० में अपनी प्राशासनिक सुविधा के लिये की गयी थी लेकिन आज भारत के ज्यादातर हिस्सों में रेलवे का जाल बिछा हुआl भारतीय रेलवे आज एशिया की सबसे बड़ी रेल व्यवस्था बन चुकी है और विश्व की दूसरी सबसे बड़ी रेल व्यवस्था में गिना जाता हैl भारतीय रेल के बेड़े में 11122 इंजन है, 53101 यात्री गाड़ी है, 6899 अन्य कोचिंग वाह है 251256 डिब्बे है

भारत की सबसे तेज गति से चलने वाली ट्रेन
High Speed Train In India
1. गतिमान एक्सप्रेस:- दोस्तों गतिमान एक्सप्रेस भारत की सबसे तेज गति (तीब्र गति) से चलनी वाली रेलगारी है, गतिमान एक्सप्रेस की सुरवात 5 अप्रैल 2016 को किया गया थाl इस ट्रेन को दिल्ली के हज़रत निज़ामुद्दीन से आगरा के बीच चलाई गई थी लेकिन बाद में इसे बढ़ा कर ग्वालियर तक कर दिया गया हैl गतिमान एक्सप्रेस अधिकतम 160 किमी/घंटा की रफ़्तार से चलती हैl इस की ट्रैक गेज 1,676 मि॰मी॰ (5 फीट 6 इंच) का हैl और इस ट्रेन नंबर (संख्या) 12049/12050 हैl इस ट्रेन को भारत की सबसे तेज गति से चलने वाली ट्रेन होने का सौभाग्य प्राप्त हैl सरकार का इस गाड़ी को चलाने का मुख्य उद्येश्य भारतीय पर्यटन को बढ़ावा देना हैl ये रेलगाड़ी शुक्रवार को छोड़कर पूरे हफ्ते चलती हैl शुक्रवार को इसलिये नही चलती है क्योंकि शुक्रवार को ताजमहल बंद रहता हैl




2. भोपाल शताब्दी एक्सप्रेस:- भारत की दूसरी सबसे तेज गति से चलने वाली ट्रेन भोपाल शताब्दी एक्सप्रेस हैl इस ट्रेन की सुरवात भारत में 1988 में की गई थीl ये ट्रेन दिल्ली से भोपाल के लिए चलाई जाती है इस ट्रेन की गति 150 किमी/घंटा रफ़्तार से चलती हैl आप को जानकारी दे दूँ की गतिमान एक्सप्रेस के शुरू होने के पहले, इसे ही भारत की सबसे तेज ट्रेन होने का गौरव प्राप्त थाl भारत की सबसे तेज गति से चलने वाली ट्रेन भोपाल शताब्दी एक्सप्रेस ही थी गतिमान एक्सप्रेस के पहलेl High Speed Train In India

3. राजधानी एक्सप्रेस:- सबसे पहले राजधानी एक्सप्रेस की शुरुआत 1969 ई० मे सबसे तेज चलने वाली ट्रेन सेवा के रूप में की गयी थीl लेकिन 1988 ई० में शताब्दी एक्सप्रेस इस से तेज गति की ट्रेन आई और उस के बाद गतिमान एक्सप्रेस शताब्दी एक्सप्रेस से भी तेज गति का ट्रेन आईl राजधानी एक्सप्रेस तिब्रगामी रेलगाड़ीयों की श्रेणी में आता हैl इस की गति 130 किमी/घंटा की रफ्तार हैl दोस्तों ये ट्रेन दिल्ली से लेकर देश के अलग-अलग शहरों में चलती है जैसे- हावड़ा, भुवनेस्वर, पटना, गोहाटी, सियाल्धाह और भी इस के अलावा कई स्टेशनो पर ये ट्रेन चलती हैl

4. तेजस एक्सप्रेस:- तेजस एक्सप्रेस को 22 मई 2017 में चालु किया गया हैl सुरेश प्रभु के कार्य काल में इस की अधिकतम रफ़्तार 180 किमी/घंटा की हैl लेकिन अभी वर्तमान में 56 किमी के रफ़्तार से चल रही हैl इस ट्रेन को मुम्बई से गोवा के करमाली के बिच चलाई गई हैl दोस्तों 20 डिब्बों वाली ये देश की पहली ट्रेन हैं जिसके सभी डिब्बों में स्वचालित दरवाजे हैं। साथ ही हर डिब्बे में चाय और कोफ़ी की वेंडिंग मशीन लगी है, प्रत्येक सीट पर एलसीडी स्क्रीन और वाई-फाई की सुविधा है। तेजस में जानेमाने शेफ द्वारा तैयार मनपसंद खाना परोसा जाता है। ट्रेन में पानी की कम खपत वाले बायो-वैक्यूम शौचालय हैं। शौचालय में टचलेस पानी का नल, साबुन डिस्पेंसर और हाथ सुखाने की मशीन लगाईं गई है।




5. दुरन्तो एक्सप्रेस:- दुरन्तो एक्सप्रेस एक नॉन स्टॉप लम्बी दूरी तय करने वाली रेलगारी हैl दुरन्तो एक्सप्रेस अलग – अलग मेट्रो शहर और कुछ प्रमुख राज्यों की राजधानी के बिच चलती हैl जैसे- नई दिल्ली ,हावरा, चेन्नई, सियालदह और पुणे आदिl यह एक्सप्रेस अधिकतम 150 किमी/घंट के रफ्तार से चल सकती हैl

भारत में रेल शुरुआत की कहानी अमेरिका के कपास फसल की विफलता से जुड़ी हुई है, 1840 के दशक में कपास की फसल को काफी नुकसान पहुंचा था, उस के बाद भारत में ट्रेन चलने के बारे में अंग्रेज सोचना सुरु कियाl

रेलवे दस्तावेज के अनुसार 16 अप्रैल 1853 को मुम्बई और ठाणे के बीच जब पहली रेल चली, उस दिन सार्वजनिक अवकाश (छुट्टी का दिन) था। साढ़े तीन बजे से कुछ पहले ही 400 लोग इस रेल गाड़ी के डिब्बों में चढ़े। 400 यात्रियों को लेकर मुम्बई से रवाना हुई। इस रेलगाड़ी ने 34 किलोमीटर का सफर सवा घंटे में तय किया और साम के 4.45 बजे ठाणे पहुंची। इस भाप वाली रेल गाड़ी को ब्रिटेन से मंगवाया गया था इस ट्रेन को ब्रिटेन से लाने में सुल्तान, सिंधु और साहिब ने मदद किया थाl

दुनिया में पहली बार ट्रेन की परिकल्पना 1604 में इंग्लैण्ड के वोलाटॅन में हुई थीl उस समय में पटरियां लकड़ी से बनाई गई थीl और काठ के डिब्बे बनाए गए थेl 1604 ई० में पहली बार ट्रेन को घोड़ा द्वारा खीचा गया थाl इसके दो शताब्दी बाद फरवरी 1824 में इंजीनियर रिचर्ड ट्रवेथिक को पहली बार भाप के इंजन को चलाने में सफलता मिली।

भारत की सबसे तेज गति से चलने वाली ट्रेन High Speed Train In India इसे शेयर जरूर करें अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और व्हाट्सएप परl




इसे भी देखें:- सफलता के मूल मंत्र लक्ष्य कैसे प्राप्त करे
इसे भी देखें:- दुनियाँ के इन सभी देशों में अब तक नोट बंदी हो चुकीं हैंl विमुद्रीकरण क्या है
इसे भी देखें:- दुनियां के 10 ऐसे देश जहाँ आज सब से ज्यदा जंगल हैl

इसे भी देखें:- भारतीय राजव्यवस्था CH-9 संघ और उसके राज्य क्षेत्र से पुछे जाने वाले महत्वपूर्ण सवाल P-1
इसे भी देखें:- आधुनिक भारत का इतिहास प्रश्नोत्तरी महत्वपूर्ण क्वेश्चन
इसे भी देखें:- साइंस से पुछे जाने वाले महत्वपूर्ण सवाल सामान्य विज्ञान प्रश्न उत्तर

इसे भी देखें:- Bihar GK In Hindi बिहार सामान्य ज्ञान
इसे भी देखें:- शिशु मृत्यु दर का रिपोर्ट जरी किया यूनिसेफ ! रिपोर्ट
इसे भी देखें:- साप्ताहिक करेंट अफेयर्स फरवरी चोथा सप्ताह करंट अफेयर्स 2018 हिंदी में

About Shital RCS GYAN

दोस्तों Shital RCS GYAN के माद्यम से मेरी कोसिस है की आप लोगो तक Education से जुडी जानकारी पंहुचा सकूँ ताकि आप की इस वेबसाइट से हेल्प हो सकें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

ताजमहल का इतिहास जानिए खास बातें आगरा का ताजमहल

ताजमहल का इतिहास जानिए खास बातें आगरा का ताजमहल

ताजमहल का इतिहास जानिए खास बातें आगरा का ताजमहल ताजमहल का इतिहास जानिए खास बातें आगरे का ताजमहल ताजमहल का इतिहास जानिए खास बातें आगरा ...

Please wait...

Subscribe to our newsletter

Want to be notified when our article is published? Enter your email address and name below to be the first to know.