भारत में आईएएस अधिकारी कितना कमी है, हर राज्य में और कितना आईएस ऑफिसर हैl

जय माता दी दोस्तों आज हम लोग जानने वाले हैं l किस राज्य में कितने आईएएस अधिकारी की कमी है और कितने आईएस ऑफिसर अभी वहां मोजुद हैंl

भारत के सभी राज्यों में कुल 1496 आईएएस अधिकारी की कमी है, पुरे भारत में 6500 आईएएस अधिकारी की जरूरत है, लेकिन अभी भारत के सभी राज्य में 5004 ऑफिसर ही मोजुद हैl कुल मिला के कहा जाय तो 1496 पद अभी भी खली है आईएएस अधिकारी के लिएl अफसरों की कमी को पूरा करना कार्मिक, लोक शिकायत और पेंशन मंत्रालय के लिए चुनौती भरा लक्ष्य है। हर साल बासवान कमीटी के सुझान के अनुरूप 180 आईएस पदों की रिक्ति निकलती है जो कि 1496 पदों की कमी को पूरा करने के लिए कई वर्ष लग जाएगा। इस कमी की वजह से न केवल राज्य सरकारें बल्कि केन्द्र सरकार भी अफसरों की कमी का सामना कर रहा है। देश में बेरोजगार क्षात्रों की संख्यां भी असामान्य दर से हर वर्ष बढ़ रही है। सरकार को ऐसी नीति पर देना चाहिए जिससे सरकार के काम-काज में अफसरों की कमी हो रही हैl



उत्तर परदेश में 621 आईएएस अधिकारी की जरूरत हैl लेकिन अभी वहां 515 आईएस ही मौजुद है, 106 आईएएस अधिकारी की कमी हैl
मध्य प्रदेश राज्य के आंकड़ों की बात करें तो जिसमें कुल 439 अधिकृत आईएस अफसरों की संख्यां में 306 आईएस अफसर प्रत्यक्ष भर्ती के तहत मोजुद होना चाहिए लेकिन केवल 240 आईएस अफसर हीं मौजुद है। कुल 133 आईएस अफसरों की मौजुद पदोन्नति के माध्यम से होने चाहिए लेकिन केवल 101 आईएस अफसर हीं मौजुद हैं। कुल मिलाकर अब तक 98 आईएस अफसरों की कमी मध्य प्रदेश में हैं।

इसी तरह महाराष्ट्र में कुल 361 आईएएस अधिकारी की संख्यां में 252 आईएएस अधिकारी प्रत्यक्ष भर्ती के तहत मौजुद होने चाहिए लेकिन केवल 219 आईएएस अधिकारी हीं मौजुद हैं। कुल 109 आईएस अफसरों की मौजुद पदोन्नति के माध्यम से होने चाहिए लेकिन केवल 94 आईएस अफसर हीं मौजुद हैं। कुल मिलाकर महाराष्ट्र में अब तक 48 आईएस अफसरों की कमी हैं।

बिहार में भी कुछ इसी तरह का हल है 342 आईएस ऑफिसर होना चाहिए, लेकिन 243 आईएस ऑफिसर ही मौजुद है, 99 आईएस ऑफिसर की कमी हैl



Utter Pardesh पद:- 621 मौजूद आईएस:- 515 खाली पद:- 106

Madhya Pradesh पद:- 439 मौजूद आईएस:- 341 खाली पद:- 98

Maharashtra पद:- 361 मौजूद आईएस:- 313 खाली पद:- 48

Tamil Nadu पद:- 376 मौजूद आईएस:- 289 खाली पद:- 87

AGMUT पद:- 337 मौजूद आईएस:- 279 खाली पद:- 58

West Bengal पद:- 359 मौजूद आईएस:- 277 खाली पद:- 82

Bihar पद:- 342 मौजूद आईएस:- 243 खाली पद:- 99

Rajasthan पद:- 313 मौजूद आईएस:- 243 खाली पद:- 70

Gujarat पद:- 297 मौजूद आईएस:- 241 खाली पद:- 56

Assam-Meghalaya पद:- 263 मौजूद आईएस:- 221 खाली पद:- 42

Karnataka पद:- 314 मौजूद आईएस:- 215 खाली पद:- 99

Punjab पद:- 221 मौजूद आईएस:- 182 खाली पद:- 39

Odisha पद:- 37 मौजूद आईएस:- 178 खाली पद:- 59

Andhra Pradesh पद:- 211 मौजूद आईएस:- 170 खाली पद:- 41

Haryana पद:- 205 मौजूद आईएस:- 155 खाली पद:- 50

Chhattisgarh पद:- 193 मौजूद आईएस:- 154 खाली पद:- 39

Kerala पद:- 231 मौजूद आईएस:- 150 खाली पद:- 81

Jharkhand पद:- 215 मौजूद आईएस:- 144 खाली पद:- 71

Telangana पद:- 208 मौजूद आईएस:- 130 खाली पद:- 78

Himachal Pradesh पद:- 147 मौजूद आईएस:- 115 खाली पद:- 32

Jammu & Kashmir* पद:- 137 मौजूद आईएस:- 91 खाली पद:- 46

Manipur पद:- 115 मौजूद आईएस:- 91 खाली पद:- 24

Uttarakhand पद:- 120 मौजूद आईएस:- 87 खाली पद:- 33

Tripura पद:- 96 मौजूद आईएस:- 76 खाली पद:- 20

Nagaland पद:- 94 मौजूद आईएस:- 67 खाली पद:- 27

Sikkim पद:- 48 मौजूद आईएस:- 37 खाली पद:- 11

इसे भी देखें:- रिवॉल्यूशनरी गार्ड ईरान की क्या है. जानिए इस के बारे में
इसे भी देखें:- भारत की अर्थव्यवस्था 2017 में कैसा रहा नोटबंदी और जीएसटी से
इसे भी देखें:- एक नजर दुनियाँ के इस रिपोर्ट पे असुरक्षित राज्य के रिपोर्ट का हाल क्या हैl
इसे भी देखें:- दुनिया के 10 सबसे कैशलेस देश ! सबसे ज्यादा कैशलेस अर्थव्यवस्था
इसे भी देखें:- भारतीय गणतंत्र दिवस से जुड़ी बहुत ही महत्वपूर्ण बातें

About Shital RCS GYAN

दोस्तों Shital RCS GYAN के माद्यम से मेरी कोसिस है की आप लोगो तक Education से जुडी जानकारी पंहुचा सकूँ ताकि आप की इस वेबसाइट से हेल्प हो सकें.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

x

Check Also

घरेलू हिंसा

घरेलू हिंसा का शिकार हो रहें हैं बच्चे देखें इस रिपोर्ट में

घरेलू हिंसा का शिकार हो रहें हैं बच्चे देखें इस रिपोर्ट में घरों में होती पिटाई, घरों में दिया जाने वाला शारीरिक दंड, हिंसा का ...

Please wait...

Subscribe to our newsletter

Want to be notified when our article is published? Enter your email address and name below to be the first to know.